पीएम मोदी ने ‘नेशनल म्यूज़ियम ऑफ़ इंडियन सिनेमा’ का किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुंबई स्थित नेशनल म्यूजियम ऑफ इंडियन सिनेमा के नए भवन का उद्घाटन किया. इस दौरान उन्होंने म्यूजियम का बारीकी से निरीक्षण भी किया. देश का यह अपने तरह का इकलौता संग्रहालय है. यह दो इमारतों ‘नवीन संग्रहालय भवन’ और 19वीं शताब्दी के ऐतिहासिक महल ‘गुलशन महल’ में स्थित है. इस दौरान उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री के कलाकारों को संबोधित करते हुए पूछा- ‘हाउ इज द जोश?’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय सिनेमा के राष्ट्रीय संग्रहालय ‘नेशनल म्यूजियम ऑफ इंडियन सिनेमा’ का उद्घाटन करते हुए फिल्म जगत को नया नारा दिया- ‘हाउ इज़ द जोश’

प्रधानमंत्री ने दुनिया की दूसरे सबसे पुराने और सबसे बड़े फिल्म जगत की सराहना करते हुए कहा कि ये सिर्फ समाज का आइना नहीं बल्कि बदलवा का अग्रदूत भी है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि फ़िल्म जगत राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है. पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने में भी इस की बड़ी भूमिका हो सकती है. उन्होंने कहा दुनियाभर में भारतीय फ़िल्मों को देश के एम्बेसडर के रूप में देखा जाता है. सूचना प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान फिल्म जगत के लिए उठाए गए कदमों को गिनाया और फिल्म निर्माण को और आसान बनाने का भरोसा दिलाया.

भारतीय सिनेमा के इस अत्याधुनिक राष्ट्रीय संग्रहालय की स्थापना श्याम बेनेगल के मार्गदर्शन में की गई है.

भारतीय सिनेमा के इतिहास से जुड़ी जानकारियां देने वाले इस संग्रहालय में शिल्प, ग्राफिक्स और मल्टीमीडिया की सहायता से भारतीय सिनेमा के किस्से-कहानियों का संग्रह है, जो सिनेमा के अब तक के सफर का बताता है. मुंबई के पेडर रोड स्थित इस संग्रहालय को करीब 141 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है.

भारतीय सिनेमा के इतिहास से जुड़ी जानकारियां देने वाले संग्रहालय के विषय में जाने-माने फिल्म निर्देशक श्याम बेनेगल ने कहा कि मुंबई शहर में सिनेमा जगत बसता है. ऐसे में शहर में फ़िल्म संग्रहालय के बनने का काफी महत्व है.

विदेशी फ़िल्म निर्माताओं के लिए सिंगल विंडो सिस्टम तैयार किया: राठौड़

मुंबई में राष्ट्रीय फिल्म संग्रहालय के उद्घाटन के अवसर पर सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने कहा कि सरकार ने ऑस्कर में चुनी जाने वाली फिल्मों की मदद के लिए अपनी नीतियों में बदलाव किया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने इसके लिए एक अलग से फंड की व्यवस्था की है. राठौर ने कहा कि सरकार ने विदेशी निर्माताओं के लिए एक सिंगल विंडो सिस्टम तैयार किया है, ताकि उनकी सभी समस्या का निदान एक जगह हो सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>