रोबोट अब आपकी तस्वीर भी बना देगा

  • आइ दा रोबोट को नवंबर में लोगों के सामने आयेगा
  • इंसानी स्वरुप देने का काम जारी
  • सामने की हरकतों की नकल करता है
  • लंदन की प्रदर्शनी में आयेगा पहली बार

प्रतिनिधि

नईदिल्लीः रोबोट का इस्तेमाल अब इंसान के हर काम में होने लगा है।

खास तौर पर खतरनाक किस्म के कार्यों में रोबोट इंसानी कार्य में बड़ा मददगार साबित हुआ है।

आर्टिफिशियल इंटैलिजेंस की दुनिया में इस पर काम करने वालों ने अब

एक ऐसा रोबोट बनाया है तो आपके सामने बैठकर आपकी तस्वीर बना सकता है।

आइ दा नामक इस मशीन को आगामी नवंबर में लंदन में आयोजित होने वाली

एक विज्ञान प्रदर्शनी में लोगों के समक्ष प्रस्तुत किया जाने वाला है।

इससे पहले मई महीने में वह ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में भी अपना कमाल दिखाने वाला है,

जहां उसकी वैज्ञानिक परीक्षण किया जाएगा।

दुनिया के इस प्रथम आर्टिफिशियल इंटैलिजेंस पर काम करने वाले इस मशीन का नाम

प्रसिद्ध ब्रिटिश गणितज्ञ और कंप्यूटर की तरक्की में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले

एडा लवलेस के नाम पर रखा गया है।

इस रोबोट को अब अंतिम रुप प्रदान किया जा रहा है।

इसे बनाने वालों ने उसे इंसान की शक्ल देने की पूरी तैयारी की है।

इसी वजह से उसके ऊपर एक चमड़ी जैसी पर्त चढ़ायी जा रही है ताकि वह इंसानी शक्ल में दिखे।

इस काम से जुड़े ब्रिटिश गैलरी के मालिक आइडान मिलर का मानना है कि यह रोबोट भविष्य में अपने आप पेंटिंग भी कर सकेगा।

मजेदार बात यह है कि उसे इंसानी शक्ल देने में भी उन चेहरों की मदद ली जा रही है,

जो इस दुनिया के ख्यातिप्राप्त नाम हैं।

रोबोट को इंसानी शक्ल देने का काम जारी

प्रारंभिक परीक्षणों में यह पाया गया है कि इस रोबोट का आचरण काफी हद तक इंसानों के जैसा बनाया गया हे ।

यानी वह अपनी आंखों से देखते हुए अपने हाथों से सामने वाले की तस्वीर बनाता है।

इसके अलावा इस मशीन की हरकतें भी इंसानों जैसी हैं।

वैज्ञानिकों ने उसे इसी स्वरुप में ढालने में पूरी मेहनत की है।

इसके निर्माण से जुड़े लोगों के मुताबिक उसकी आंखों की पुतलियों के पीछे दरअसल कैमरे लगाये गये हैं।

इन कैमरों की मदद से ही वह देखता है।

इस रोबोट में यह खूबी है कि वह सामने वाले की आंखों में झांकता है।

यहां तक कि शोध के दौरान उसे किसी को देख लेने के बाद एक कमरे में उसका पीछा करना तक सीखाया गया है।

जब कोई उसके बहुत करीब चला जाता है तो वह अपनी आंख झपकाते हुए अपने आप ही पीछे हट जाता है।

यहां तक कि उसके सामने किसी ने अगर मुंह खोला तो वह भी उसकी नकल करते हुए अपनी मुंह को खोल लेता है।

इसे तैयार करने से जुड़े लोगों ने इस रोबोट को इंसान की नकल करना काफी हद तक सिखा दिया है।

इसलिए उसके सामने आने वाले की हरकतों को गौर करते हुए रोबोट भी वैसा ही करने लगता है।

इससे लोगों को अपनी नकल होते देख भी अच्छा लगता है।

रोबोट को तैयार करने से जुड़े लोगों का मानना है कि रोबोट अपनी चित्रकारी के अलावा भी हरकतों से किसी भी प्रदर्शनी में लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करने में सफल होगा।

इसी वजह से रोबोट को इंसानी स्वरुप देने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है।

ताकि प्रदर्शनी में आने वाले लोगों को यह रोबोट किसी यंत्र के जैसा नहीं बल्कि एक इंसान के जैसा नजर आये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>